en

Bhagavad Gita in Hindi
Install Now
Bhagavad Gita in Hindi
Bhagavad Gita in Hindi

Bhagavad Gita in Hindi

🌺 Read Bhagavad Gita in Hindi Chapter-Wise 🌺

Developer: Hindutva Infotech
App Size: Varies With Device
Release Date: Jun 21, 2024
Price: Free
1
6 Ratings
Size:
Varies With Device
Download APK
Google Play

Screenshots for App

Mobile
🌺 Read Bhagavad Gita in Hindi Chapter-Wise.🌺


🌺 Some features of Bhagavad Gita in Hindi Android app. 🌺

⭐️ Less Than 5 MB !!
⭐️ Shrimad Bhagwad Gita In Hindi.
⭐️ Chapter Wise Reading.
⭐️ No Advertisements.
⭐️ This app is in easy Hindi Language.
⭐️ Simple app.
⭐️ Professionally designed, user-friendly interface.
⭐️ No in - app Purchases. Complete Free App.
⭐️ Good For Everyday Listening.
⭐️ No Unwanted Ads.

🌺 Listen to all the 18 chapters - सुनें सारे 18 अध्याय 🌺

1. अर्जुनविषादयोग ~ अध्याय एक
2. सांख्ययोग ~ अध्याय दो
3. कर्मयोग ~ अध्याय तीन
4. ज्ञानकर्मसंन्यासयोग ~ अध्याय चार
5. कर्मसंन्यासयोग ~ अध्याय पाँच
6. आत्मसंयमयोग ~ छठा अध्याय
7. ज्ञानविज्ञानयोग- सातवाँ अध्याय
8. अक्षरब्रह्मयोग- आठवाँ अध्याय
9. राजविद्याराजगुह्ययोग- नौवाँ अध्याय
10. विभूतियोग- दसवाँ अध्याय
11. विश्वरूपदर्शनयोग- ग्यारहवाँ अध्याय
12. भक्तियोग- बारहवाँ अध्याय
13. क्षेत्र-क्षेत्रज्ञविभागयोग- तेरहवाँ अध्याय
14. गुणत्रयविभागयोग- चौदहवाँ अध्याय
15. पुरुषोत्तमयोग- पंद्रहवाँ अध्याय
16. दैवासुरसम्पद्विभागयोग- सोलहवाँ अध्याय
17. श्रद्धात्रयविभागयोग- सत्रहवाँ अध्याय
18. मोक्षसंन्यासयोग- अठारहवाँ अध्याय



महाभारत युद्ध आरम्भ होने के ठीक पहले भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन को जो उपदेश दिया वह श्रीमद्भगवद्गीता के नाम से प्रसिद्ध है।
यह महाभारत के भीष्मपर्व का अंग है।
गीता में 18 अध्याय और 700 श्लोक हैं।

गीता की गणना प्रस्थानत्रयी में की जाती है, जिसमें उपनिषद् और ब्रह्मसूत्र भी सम्मिलित हैं। अतएव भारतीय परम्परा के अनुसार गीता का स्थान वही है जो उपनिषद् और धर्मसूत्रों का है।
उपनिषदों को गौ (गाय) और गीता को उसका दुग्ध कहा गया है। इसका तात्पर्य यह है कि उपनिषदों की जो अध्यात्म विद्या थी, उसको गीता सर्वांश में स्वीकार करती है।
उपनिषदों की अनेक विद्याएँ गीता में हैं। जैसे, संसार के स्वरूप के संबंध में अश्वत्थ विद्या, अनादि अजन्मा ब्रह्म के विषय में अव्ययपुरुष विद्या, परा प्रकृति या जीव के विषय में अक्षरपुरुष विद्या और अपरा प्रकृति या भौतिक जगत के विषय में क्षरपुरुष विद्या।
इस प्रकार वेदों के ब्रह्मवाद और उपनिषदों के अध्यात्म, इन दोनों की विशिष्ट सामग्री गीता में संनिविष्ट है। उसे ही पुष्पिका के शब्दों में ब्रह्मविद्या कहा गया है।
महाभारत के युद्ध के समय जब अर्जुन युद्ध करने से मना करते हैं तब श्री कृष्ण उन्हें उपदेश देते है और कर्म व धर्म के सच्चे ज्ञान से अवगत कराते हैं।
श्री कृष्ण के इन्हीं उपदेशों को “भगवत गीता” नामक ग्रंथ में संकलित किया गया है।

श्रीमद्भगवद्गीता बदलते सामाजिक परिदृश्यों में अपनी महत्ता को बनाए हुए हैं और इसी कारण तकनीकी विकास ने इसकी उपलब्धता को बढ़ाया है,
तथा अधिक बोधगम्य बनाने का प्रयास किया है। दूरदर्शन पर प्रसारित धारावाहिक महाभारत में भगवद्गीता विशेष आकर्षण रही,
वहीं धारावाहिक श्रीकृष्ण (धारावाहिक) में भगवद्गीता पर अत्यधिक विशद शोध करके उसे कई कड़ियों की एक शृंखला के रूप में दिखाया गया।
इसकी एक विशेष बात यह रही कि गीता से संबंधित सामान्य मनुष्य के संदेहों को अर्जुन के प्रश्नों के माध्यम से उत्तरित करने का प्रयास किया गया।

The Shrimad Bhagavad Gita ( Sanskrit: श्रीमद्भगवद्गीता, lit.' The Song by God';), often referred to as the Gita (IAST: gītā), is a 700-verse Hindu scripture that is part of the epic Mahabharata (chapters 23–40 of book 6 of the Mahabharata called the Bhishma Parva),
dated to the second half of the first millennium BCE and is typical of the Hindu synthesis.
It is considered to be one of the holy scriptures for Hinduism.

The Gita is set in a narrative framework of a dialogue between Pandava prince Arjuna and his guide and charioteer Lord Krishna, an incarnation of Lord Vishnu.
At the start of the Dharma Yuddha (righteous war) between Pandavas and Kauravas, Arjuna is filled with moral dilemma and despair about the violence and death the war will cause in the battle against his own kind.
He wonders if he should renounce and seeks Krishna's counsel, whose answers and discourse constitute the Bhagavad Gita.
Lord Krishna counsels Arjuna to "fulfill his Kshatriya (warrior) duty to uphold the Dharma" through "selfless action".
Show More
Bhagavad Gita in Hindi 1.4 2024-06-21
2024-06-21 Version History
⭐️ Less Than 5 MB !!
⭐️ Shrimad Bhagwad Gita In Hindi.
⭐️ Chapter Wise Reading.
⭐️ No Advertisements.
⭐️ This app is in easy Hindi Language.

~Hindutva Infotech
More Information about: Bhagavad Gita in Hindi
Price: Free
Version: 1.4
Size: Varies With Device
Release Date: Jun 21, 2024
Content Rating: Everyone
Developer: Hindutva Infotech
Developer Apps:
Recent Releases

Whatsapp
Vkontakte
Telegram
Reddit
Pinterest
Linkedin
Hide